-->
Natural Natural

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नमामि गंगे और AMRUT परियोजना समेत 7 परियोजनाओं का उद्घाटन किया

 


  • भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उद्घाटन की गई 7 परियोजनाओं में से 4 परियोजनाएं जल आपूर्ति से संबंधित है जिनमें से दो परियोजना है। 
  • बाकी दिन योजनाओं में से एक परियोजना रिवरफ्रंट डेवलपमेंट संबंधित तथा अन्य 2 परियोजनाएं सीवरेज उपचार से संबंधित परियोजना है। 15 सितंबर को एम विश्वेश्वरैया के जन्म जयंती जिसे इंजीनियर्स डे के नाम से मनाया जाता है इसे मनाने के अवसर पर भारत के प्रधानमंत्री द्वारा यह सातो परियोजनाओं का उद्घाटन किया गया। 
  • इन परियोजनाओं का मार्गदर्शन तथा इन परियोजनाओं को लागू करने का कार्य बिहार अर्बन इन्फ्राट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड करेगी। इन सातों परियोजनाओं में लगभग 541 करोड का निवेश होगा जिसे मंजूरी दे दी गई है। 

नमामि गंगे परियोजना के बारे में सामान्य जानकारी:
  • नमामि गंगे परियोजना को भारत सरकार द्वारा 2014 में एक सरक्षण परियोजना के भाग के रूप में शुरू किया गया था। इस कार्यक्रम द्वारा गंगा के आसपास के क्षेत्र को स्वच्छ रखना तथा गंगा नदी की सफाई का इस परियोजना में लक्ष्य रखा गया था। 
  • गंगा नदी में सौरक्षण कार्य तथा गंगा नदी के कायाकल्प का कार्य करने के लिए इस परियोजना में अखुट पैसा बहाया गया है, गंगा नदी के प्रदूषण को काम करना गंगा नदी को साफ करना भी परियोजना का मुख्य लक्ष्य है। 
  • जिसके लिए नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के कार्य किए जा रहे हैं। जिनमें सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाने का कार्य, नदी के किनारे वनीकरण का कार्यक्रम, नदी की सत्ता की सफाई का 
  • कार्यक्रम, औद्योगिक के कामों पर निगरानी का काम, जन जागरूकता अभियान, फ्रंट डेवलपमेंट कार्यक्रम तथा गंगा ग्राम जैसे विभिन्न अभियान द्वारा नमामि गंगे परियोजना को सफल बनाने का प्रयास किया जा रहा है। 

बिहार में नमामि गंगे परियोजना के महत्व के बारे में सामान्य जानकारी:
  • बिहार में नमामि गंगे परियोजना के तहत गंगा नदी के किनारे पर बसे लोगों के जीवन सुधारने का तथा गंगा नदी किनारे पर्यटन स्थल को बढ़ावा देने का कार्य किया जा रहा है। 
  • केंद्र सरकार द्वारा नमामि गंगे परियोजना के तहत बिहार राज्य में 6000 करोड रुपए की परियोजनाएं लागू की गई है, जिसमें 50 से भी ज्यादा परियोजनाओं पर कार्य किया जा रहा है। 
  • इस परियोजना के तहत नल द्वारा जल पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है, जिसके तहत तकरीबन 2 करोड से ज्यादा पानी के कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। 
  • इस परियोजना के एक महत्वपूर्ण हिस्से के तौर पर गंगा की नदी किनारे बने तकरीबन 180 घाटों का विकास कार्य भी किया जा रहा है।  बिहार में विभिन्न प्रकार के नदी किनारे वनीकरण कार्यक्रम, लोक जागरूकता कार्यक्रम जैसे विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों द्वारा नमामि गंगे परियोजना को सफल बनाने का बिहार राज्य में प्रयास किया जा रहा है। 

AMRUT परियोजना के बारे में सामान्य जानकारी:
AMRUT -Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation 
  • भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शहर के बुनियादी ढांचे को मजबूत बनाने के लिए देता उसके कायाकल्प करने के लिए शुरू किया गया था। शहर में प्राथमिक जरूरतों को सुव्यवस्थित करने के लिए पानी और बिजली पर विशेष ध्यान केंद्रित किया गया था। 
  • राजस्थान राज्य ने सर्वप्रथम AMRUT परियोजना के तहत योजना बनाकर कार्य शुरू किया था। इस योजना के तहत शहर के सभी लोगों को घर मुहैया करवाने का लक्ष्य भी रखा गया है, 2022 तक इसे पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 
  • इस परियोजना के प्रथम चरण में गुजरात, राजस्थान और आंध्र प्रदेश के 90 शहरों को शामिल किया जाएगा। इस परियोजना में शामिल किए गए प्रत्येक शहर में सिटी मैनेजमेंट यूनिट स्थापित करने का करने का प्रस्ताव रखा गया था। यह परियोजना आने वाले समय में देश के विभिन्न राज्यों में लागू होगी।
  • इस परियोजना के तहत शहर को प्रदूषण मुक्त तथा शहर में बुनियादी सुविधा जैसी के पानी, बिजली, इंटरनेट, पार्क, खुली जगह, सीवरेज तथा अन्य आधुनिक सुविधाओं को शामिल किया जाएगा। 

बिहार राज्य के बारे में सामान्य जानकारी:
राजधानी - पटना
राज्यपाल -फागू चौहान
मुख्यमंत्री - नीतीश कुमार
उपमुख्यमंत्री - सुशील कुमार मोदी
क्षेत्रफल के हिसाब से भारत में स्थान - 12 वा 
आबादी के हिसाब से भारत में स्थान - तीसरा
आधिकारिक भाषा - हिंदी
2011 के आंकड़ों के हिसाब से - सबसे घनी आबादी वाला राज्य 
 







Telegram Group Link: Click Here


Post a Comment

Subscribe Website