-->
Natural Natural

नशा मुक्त भारत अभियान को 272 जिलों में लागू किया गया

  • 20 सितंबर 2020 के दिन लोकसभा में सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री रतनलाल कटारिया ने कहा कि अब तक देश के कूल 272 जिलों में नशा मुक्त भारत अभियान को शुरू किया गया है। 
  • इस पूरे अभियान को पढ़ो समाज सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय द्वारा चलाया जा रहा है जिसकी शुरुआत उन्होंने 2018 में की थी और यह अभियान 2025 तक चलेगा।

नशा मुक्त भारत अभियान के बारे में सामान्य जानकारी:
  1. नशा मुक्त भारत अभियान 2015 में शिरोमणि अकाली दल द्वारा पंजाब में शुरू किया गया था। पंजाब में इस अभियान को शुरू करने का मुख्य कारण यह था कि पंजाब के 18 जिलों में से सभी जिले नशीली दवाओं के दुरुपयोग  से प्रभावित थे।
  2. इस अभियान का मुख्य उद्देश्य भारत के युवाओ में नशे की लत को कम करके पूरी तरह से नशा मुक्त करना है।
नशा मुक्त भारत अभियान का टैगलाइननशा मुक्त भारत सशक्त भारत
  • इस अभियान में स्कूलों व कॉलेजों में नशा मुक्ति के लिए जागरूकता का कार्यक्रम किया जाता है। इसमें बताया जाता है कि नशा करने से हमारे शरीर पर और हमारे परिवार पर कितना गलत असर पड़ता है।
  • हाल में भारत के कुल 272 जिलों में इस अभियान को लागू किया गया है जिनमें ज्यादातर जिले पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और उत्तर पूर्वी राज्य के हैं। इन राज्यों में नशीले पदार्थ का सेवन  अन्य राज्यों के मुकाबले  ज्यादा होने के कारण  इस राज्य के जिलों को चुना गया है ।
  • नशीली दवाओं की तस्करी और दुरुपयोग के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस भी मनाया जाता है जिसे 26 जून को मनाया जाता है।
वर्ष 2020 के नशीली दवाओं के दुरुपयोग और अवैध तस्करी के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय दिवस का विषय:  बैटनर नॉलेज फॉर बेटर केयर
  • इस अभियान को 2018 से 2025 के बीच चलाया जाएगा जिसमें पूरे भारत में नशीली दवाओं का उपयोग कम करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • भारत के संविधान के अनुच्छेद 47 राज्य को यह शक्ति प्रदान करता है कि राज्य अपने प्राथमिक कर्तव्यों के बीच पोषण के स्तर को बढ़ाने के लिए, अपने राज्य के लोगों की जीवन स्तर को बढ़ाने के लिए और सार्वजनिक स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए राज्य में अपनी तरफ से पूरे प्रयास करेगा। इस में मादक द्रव्य के औषधीय प्रयोजनों और दवाओं के इलावा स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है इस बात को ध्यान में रखकर मादक द्रव्यों के सेवन पर प्रतिबंध लगाने का अधिकार है।  




Telegram Group Link: Click Here

WhatsApp Group Link: Click Here


Post a Comment

Subscribe Website